Home अभी-अभी कायस्थों का बड़ा जमावड़ा, उत्थान से जुड़े अहम कदम उठाने पर मंथन

कायस्थों का बड़ा जमावड़ा, उत्थान से जुड़े अहम कदम उठाने पर मंथन

कायस्थों को सामाजिक और राजनैतिक भागीदारी के साथ ही आर्थिक आरक्षण दिलाना हमारा लक्ष्य है। इसे हासिल करने के लिए तमाम कायस्थ संगठन भले महासभा में शामिल हो पर एकजुट अवश्य हो जाए तभी समाज को उसकी भागीदारी और सम्मन मिलेगा। यह बात पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं कायस्थ महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुबोधकांत सहाय ने कायस्थ हुंकार रैली में कही। राजधानी के बीरबल साहनी मार्ग स्थित गोमती तट पर आयोजित विशाल रैली में उत्तर प्रदेश, राजस्थान, बिहार, उत्तराखंड, मध्यप्रदेश समेत देश के विभिन्न राज्यो के कायस्थ संगठनों के पदाधिकारियों ने हजारों की संख्या में भागीदारी की।


कार्यक्रम की शुरूआत चित्रगुप्त महाराज और देश के प्रथम राष्ट्रपति डॉ. राजेन्द्र प्रसाद के चित्र पर माल्यार्पण कर हुआ। इस अवसर पर पटना से आई लोकगायिका मनीषा श्रीवास्तव ने स्तुति प्रस्तुत की। संगठन के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व राज्यसभा सांसद आरके सिन्हा ने कहा कि अब समय आ गया है जब सभी नामधारी संगठनों को एकजुट होकर अपने हक की बात करनी होगी, समय के साथ ही कायस्थो की आर्थिक और सामाजिक दशा सुधारने के लिए एकजुटता आवश्यक है।

पूर्व विधायक प्रदीप माथुर ने कहा कि हमारे पूर्वजों ने सल्तनते चलाई, शासन और प्रशासन में अग्रणी रहे है आज उपेक्षा का शिकार इसलिए है क्योंकि हम जनसंख्या से अधिक संगठनों में तीतर-बितर है। रैली के संयोजक मनोज लाल ने कहा कि हमे किसी दल विशेष का पिछलग्गू होने के बजाय अपने समाज की एकजुटता दिखा कर राजनीतिक दलों को मजबूर किया जाएगा कि वे हमारे समाज को प्रतिनिधित्व दे। ये हमारा हक है और हम इसे हर हाल में लेकर रहेंगे।

सभी पदाधिकारियों और कायस्थ नेताओं ने इस बात पर जोर दिया कि जो भी दल हमारे समाज को जिस सीट पर प्रतिनिधित्व देगा वहां हम उसके साथ है, हमारा वोट किसी की जागीर नही हैं। अखिल भारतीय चित्रांश महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष विनोद बिहारी वर्मा, पूर्व विधायक सतीश निगम, कवि सर्वेश अस्थाना, कायस्थ महासभा के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. इंद्रसेन श्रीवास्तवअंकित सक्सेना, अजय श्रीवास्तव अज्जू, सौरभ,महिला सभा की अध्यक्ष रीबू श्रीवास्तव,रमेश श्रीवास्तव, विकास श्रीवास्तव बाबा,राजीव रत्न, शशि निगम,न्यूटन सक्सेना, गौरव सक्सेना, ए के श्रीवास्तव, सविता सिंह, अन्नपूर्णा भारती आदि ने भी संबोधित किया।

RELATED ARTICLES

14 जनवरी, मकर संक्रांति के दिन सूर्य मकर राशि में प्रवेश करेगे।

डॉ इंद्र बली मिश्रा ने बताया कि मकर संक्रांति पर पवित्र नदियों में स्नान, दान, जाप करने का विशेष महत्व माना...

मोकामा के घोसवरी प्रखंड में बड़ा कार्यक्रम, प्रियदर्शी पियूष ने किया जोरदार संबोधन

आज मोकामा विधानसभा के घोसवरी प्रखंड के प्रहलादपूर नारायणपुर गाँव मे शोषित वंचित एकता मंच के कार्यक्रम का सफल आयोजन प्रियदर्शी पियूष...

गरीब और मेघावी छात्र- छात्राओं को निशुल्क IIT- JEE की कोचिंग कराएगा अवसर ट्रस्ट

गरीब और मेघावी छात्रा- छात्राओं को निशुल्क IIT- JEE की कोचिंग कराएंगी अवसर ट्रस्ट. IIT JEE की तैयारी का ये सुनहरा मौका...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

14 जनवरी, मकर संक्रांति के दिन सूर्य मकर राशि में प्रवेश करेगे।

डॉ इंद्र बली मिश्रा ने बताया कि मकर संक्रांति पर पवित्र नदियों में स्नान, दान, जाप करने का विशेष महत्व माना...

मोकामा के घोसवरी प्रखंड में बड़ा कार्यक्रम, प्रियदर्शी पियूष ने किया जोरदार संबोधन

आज मोकामा विधानसभा के घोसवरी प्रखंड के प्रहलादपूर नारायणपुर गाँव मे शोषित वंचित एकता मंच के कार्यक्रम का सफल आयोजन प्रियदर्शी पियूष...

गरीब और मेघावी छात्र- छात्राओं को निशुल्क IIT- JEE की कोचिंग कराएगा अवसर ट्रस्ट

गरीब और मेघावी छात्रा- छात्राओं को निशुल्क IIT- JEE की कोचिंग कराएंगी अवसर ट्रस्ट. IIT JEE की तैयारी का ये सुनहरा मौका...

डब्लूजेएआई के राष्ट्रीय अध्यक्ष को मातृ शोक, भागलपुर स्थित अपने आवास पर ली अंतिम सांस

वेब जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष आनंद कौशल की माता का निधन सोमवार को हो गया। वे काफी दिनों से...

Recent Comments