Home अन्य बड़ी खबरें बक्सर जिले के आमसारी गांव में गेंहू के खेत में लगी आग,...

बक्सर जिले के आमसारी गांव में गेंहू के खेत में लगी आग, मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड खराब, मुआवजा की कर रहें मांग

लाइव बिहार: बक्सर जिले में सैकड़ों किसान के आंखे आज आंसूयों से भर गए. एक छोटी सी बिजली की चिंगारी से हजारों एकड़ गेंहू के फसल जलकर राख हो गए. जिले के डुमरांव अनुमंडल के चौंगाई प्रखंड के आमसारी और मठिला गांव के सैकड़ों किसानों की सालों की मेहनत उनकी आंखों के सामने धु- धुकर जल गयी. आग से किसानों के खेतों में लगी पकी फसल पूरी तरह बर्बाद हो गई. इस घटना से पूरे गांव में सन्नाटा पसर गया है. सभी किसानों का रो-रोकर बुरा हाल है. अब तो उनके सामने ‘एक दिन की रोटी’ भी कैसे मिलेगी इसकी चिंता सताने लगी है.

पूरे घटना क्रम की बात करें तो जिले के आमसारी गांव के बधार में हजारों एकड़ में लगी गेंहू की फसल तैयार थी. किसान अब फसल को काटकर अपने घर पर लाने की तैयारी में थे. इसी बीच खेतों से ऊपर गुजर रही हाईटेशन तार से गिरी चिंगारी ने किसानों के सपनों को धु-धुकर जला दिया. हालांकि की मौके पर दमकल की चार गाड़ियां पहुंची, लेकिन नाकाफी रहा. मौके पर पहुंची गाड़ियों में किसी में पानी ही नहीं था तो कोई खराब था. किसान अपने स्तर से आग पर काबू पाने की प्रयास करते रहें, लेकिन आग इतनी भयावह थी कि देखते ही देखते हजारों एकड़ में लगी फसल जलकर खाक हो गयी. मौके पर जिलापरिषद और एसडीओ पहुंचे और उन्होंने किसानों को संतावना दिया है. जल्द- से जल्द मुआवजा मिल जाएंगा. ये देखने वाली बात हैं कि क्या सच में किसानों को मुआवजा मिलता है या नहीं या सिर्फ वादा ही किया गया है.

पीड़ित किसान राजेश्वर सिंह और रामकृष्ण सिंह की माने तो इस अगलगी से सबकुछ बर्बाद करके रख दिया. उन्होने अपनी बेटी की शादी इसी आस में तय कर रखी थी. खेतों में लगी गेंहू की फसल बेच कर उस रकम में बेटी की शादी बड़े ही धुमधाम से करूंगा. लेकिन अब ऐसा संभंव नहीं हो सका. उन्होंने यह भी कहा कि अब तो उनके और उनके परिवार के सामने खाने की समस्या उत्पन्न हो गयी है.

वहीं गांव के सैकड़ों किसान कि सिसकिया रूकने का नाम नहीं ले रहा है. किसान रामकृष्ण सिंह, राजेश्वर सिंह, रमेश सिंह उर्फ लंगड़ सिंह, अंटु सिंह, हरेंद्र सिंह, धमेंद्र सिंह, ललित सिंह, मोहन जी सिंह, अक्षयवर सिंह, पप्पू पाठक, अटल सिंह, गणेश सिंह, पप्पू सिंह, बरमेश्वर चौधरी, विश्वामित्र चौधरी, अनिल सिंह, मार्कंडेय सिंह, अमिरा चौधरी, सुरेश चौधरी, रमेश चौधरी समेत गांव के सैकड़ों किसानों की फसल जलकर राख हो गयी है. किसानों की माने तो करीब करोड़ों की फसल जलकर राख हो गई. सभी की निगाहे अब सरकार की ओर टिकी है. गांव के सभी किसान सरकार से मुआवजे की मांग कर रहे हैं.

RELATED ARTICLES

पूर्व सांसद आरके सिन्हा के निर्देश पर जरूरतमंदों की मदद, सेवा ही संगठन कार्यक्रम का किया गया आयोजन

महामारी के इस दौर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीजेपी नेताओं और कार्यकर्ताओं से अपील की थी कि वह जरूरतमंदों की मदद...

अमैन पंचायत की जनता चाहती हैं बदलाव, वहां के लोगों की स्थिति बद से बदतर

मीना शर्मा के पुत्र टीन्कू शर्मा मुसहर समाज के लोगों से मिले. उन्होंने कहा कि उन लोग से मिलकर पता चला कि...

महिला सशक्तीकरण के लिए पीएजीसी फाउंडेशन आगे, समाज के पिछड़े व गरीब वर्गों के लिए करती है काम

पीएजीसी फाउंडेशन एक गैर लाभकारी कंपनी है. जो भारतीय कंपनी अधिनियम 2013 की धारा 8 के तहत पंजीकृत है और महिला सशक्तीकरण...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

आर के सिन्हा ने की भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया से मुलाकात

भाजपा के संस्थापक सदस्य आर के सिन्हा ने आज शाम भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा जी से उनके संसद भवन...

पूर्व सांसद आरके सिन्हा के निर्देश पर जरूरतमंदों की मदद, सेवा ही संगठन कार्यक्रम का किया गया आयोजन

महामारी के इस दौर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीजेपी नेताओं और कार्यकर्ताओं से अपील की थी कि वह जरूरतमंदों की मदद...

अमैन पंचायत की जनता चाहती हैं बदलाव, वहां के लोगों की स्थिति बद से बदतर

मीना शर्मा के पुत्र टीन्कू शर्मा मुसहर समाज के लोगों से मिले. उन्होंने कहा कि उन लोग से मिलकर पता चला कि...

पटना में अनोखे डिजिटल मीडिया स्टार्ट अप प्रतिष्ठान “साइफर मीडिया सॉल्यूशन्स” का शुभारंभ

राजधानी में अपने किस्म के अनोखे डिजिटल मीडिया स्टार्ट अप प्रतिष्ठान "साइफर मीडिया सॉल्यूशन्स" का शुभारंभ गुरुवार से विधिवत हो गया। अशोक...

Recent Comments