Home Bihar Election पहले चरण में कई नक्सल प्रभावित इलाकों में है चुनाव, पोलिंग बूथों...

पहले चरण में कई नक्सल प्रभावित इलाकों में है चुनाव, पोलिंग बूथों पर अर्द्धसैनिक बल के जवान संभालेंगे मोर्चा,

- Advertisement -
block id 8409 site livebihar.com - mob 300x600px_B

विधानसभा चुनाव में बूथों पर अर्द्धसैनिक बलों की तैनाती रहेगी। चुनाव के मद्देनजर फोर्स की तैनाती का खाका लगभग तैयार कर लिया गया है। मतदान केन्द्रों पर सुरक्षा का जिम्मा अर्द्धसैनिक बलों के जवान संभालेंगे। इनके साथ दूसरे राज्यों से आए बल को भी बूथों पर तैनात किया जाएगा। प्रथम चरण में बिहार के 71 विधानसभा क्षेत्रों में वोट डाले जाने हैं। 28 अक्टबूर को होनेवाले चुनाव में कई इलाके नक्सल प्रभावित हैं। लिहाजा, सुरक्षा के दृष्टिकोण से यह चरण सबसे संवेदनशील है। खासकर औरंगाबाद, गया, लखीसराय और जमुई में नक्सलियों के खिलाफ विशेष रणनीति के तहत काम किया जा रहा है।

अर्द्धसैनिक बलों और राज्य की विशेष पुलिस बल की लगभग 1100 कंपनियां बिहार पहुंच चुकी हैं। बचे हुए बल भी एक-दो दिन में आ जाएंगे। शांतिपूर्ण और निष्पक्ष चुनाव की खातिर बिहार को सुरक्षाबलों की 1200 कंपनियां मिली हैं, जिसमें 45 पहले से यहां तैनात थी। चुनाव की घोषणा के बाद बिहार को एरिया डोमिनेशन के लिए अर्द्धसैनिक बलों की 300 कंपनी मिली थी। दूसरी बार फिर से 300 कंपनियां भेजी गईं।

कुछ दिनों पहले चुनाव के लिए ही 600 कंपनी और भेजने का आदेश दिया गया। शुरुआत के दो चरणों में आई फोर्स को विभिन्न जिलों में एरिया डोमिनेशन के काम में लगाया गया है। वहीं अब जो फोर्स बिहार आ रही है उन्हें मतदानवाले क्षेत्रों में भेजा जा रहा है। बाकी के फोर्स भी चुनाव वाले क्षेत्रों में भेजे जा रहे हैं। बिहार पुलिस के जवानों को चुनावी ड्यूटी के लिए पुलिस लाइन में योगदान कराया जा रहा है। वहीं से जिला बल के जवान और अधिकारी मतदान वाले क्षेत्रों में भेजे जाएंगे।

ट्रेजरी, बैंक रिजर्व गार्ड और कोर्ट सुरक्षा में तैनात जवानों को छोड़ बाकी सभी को चुनाव ड्यूटी पर लगाने के आदेश दिए गए हैं। इन्हें पुलिस लाइन में योगदान कराया जा रहा है। वहीं से उन्हें प्रतिनियुक्ति वाले जिलों और विस क्षेत्रों में भेजा जाएगा। चुनाव में बूथों की सुरक्षा के अलावा भी बड़ी संख्या में फोर्स की जरूरत होती है। स्टैटिक के अलावा कई बूथों को मिलाकर पेट्र्रोंलग पार्टी की व्यवस्था रहेगी। माना जा रहा है कि जिला पुलिस व बीएमपी के जवानों को बूथ से इतर चुनाव ड्यूटी पर लगाया जाएगा।

RELATED ARTICLES

बिहार में आइसोलेशन सेंटर दोबारा शुरू, होली पर दूसरे राज्‍यों से आनेवाले को रखा जाएगा

Desk: राजधानी में होली पर कोरोना से ज्यादा प्रभावित राज्यों से आने वालों की जांच के साथ उन्हें आइसोलेशन सेंटर में रखने...

बिहार पंचायत चुनाव में वोटिंग के लिए ये दस्तावेज रखें, आयोग ने जारी की 16 दस्तावेजों की लिस्ट

Desk: बिहार में पंचायत चुनाव के वोटरों के लिए राज्य निर्वाचन आयोग ने उन 16 दस्तावेजों की लिस्ट जारी कर दी है...

राज्यसभा की सीट को लेकर सियासत, चिराग बोले- मेरी मां राजनीति में नहीं आना चाहती

लाइव बिहार: लोजपा संस्थापक और पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के निधन के बाद राज्यसभा की एक सीट खाली हो गई है....

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

लोकसभा चुनाव की घोषणा अगले हफ्तों के अन्दर, यूपी को छोड़कर देश के सभी राज्यों की सीटों के लिए कांटे की टक्कर

अब कुछ हफ्तों के बाद ही देश में लोकसभा चुनावों की घोषणा हो जाएगी। पर उत्तर प्रदेश (यूपी) को छोड़कर देश के...

सक्षमता परीक्षा देकर बाहर निकले शिक्षक, बोले-सवाल बहुत मुश्किल था, एग्जाम से पहले जूता-मोजा निकलवाया गया

पटनाः बिहार बोर्ड की तरफ से ली जा रही सक्षमता परीक्षा की शुरुआत हो गई है। पहले दिन शिक्षकों ने परीक्षा के...

जीतनराम मांझी ने RJD नेता तेजस्वी यादव पर जमकर बरसे, बोले-नौकरी और रोजगार सिर्फ CM नीतीश ने दिया

पटना डेस्कः बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और हम पार्टी के संरक्षक जीतनराम मांझी ने राजद नेता तेतस्वी यादव के जन विश्वास यात्रा...

कैमूर हादसे पर CM नीतीश ने जताया दुःख, सभी लोगों की हो गई शिनाख्त, परिवार में मातम का माहौल

पटना डेस्कः बिहार के कैमूर जिला में एक बड़ी घटना घटी है, जिसमें 9 लोगों की दर्दनाक मौत हो गई है। दरअसल...

Recent Comments