Home Bihar Election पुष्पम प्रिया का बड़ा एलान, खोंयछा के बदले देगी 8 लाख सरकारी...

पुष्पम प्रिया का बड़ा एलान, खोंयछा के बदले देगी 8 लाख सरकारी नौकरी, 1 टुकड़ा कपड़ा के बदले 100 टेक्सटाईल पार्क

- Advertisement -
block id 8409 site livebihar.com - mob 300x600px_B

लाइव बिहार: बिहार चुनावों को लेकर पुष्पम प्रिया चौधरी ने एक बड़ा एलान किया है. उन्होंने अपने फेसबुक पेज पर एक पोस्ट करते हुए बताया कि वो अगर बिहार में सरकार बनाएंगी तो आने वाले 10 सालों में वे बिहार में क्या परिवर्तन करेंगी. प्रिया ने अपने फेसबुक पोस्ट में अपनी एक तस्वीर लगाई है. जिसमें वो खोंयछा लेते हुए दिख रही हैं.

उन्होंने #ChooseProgress #बिहारकाखोंयछा के साथ पोस्ट करते हुए लिखा है कि जाति-धर्म का नहीं ‘बिहार का खोंयछा’ का समीकरण – 2030 तक 1 मुठ्ठी चावल के बदले 150 मिलियन टन फ़ूडग्रेन, 1 टुकड़ा कपड़ा के बदले 100 टेक्सटाईल पार्क, और 1 आशीर्वादी सिक्का के बदले 2025 तक हर साल 8 लाख सरकारी नौकरी और 80 लाख प्राईवेट जॉब, न्यूनतम वेतन 26000 तय. एक दशक 2020-30 में 200% की अभूतपूर्व आर्थिक विकास दर!

जानकारी के लिए आपको बता दें कि पुष्पम अपने चुनाव प्रचार के दौरान इन दिनों बिहार का खोंयछा अभियान चला रही हैं. जिसमें उनके उम्मीदवारों का गांव की महिलाएं खोइचा भरते हुए दिख रही हैं. इस खेइचा अभियान का अपना एक मकसद और उदेश्य है. यह अभियान फेसबुक और अन्य सोशल मीडिया पर #ChooseProgress #बिहारकाखोंयछा से ट्रेड भी कर रहा है. वहीं पुष्पम ने इसे लेकर एक वीडियो भी जारी किया है. जिसमें उन्होंने इस पूरे अभियान के बारे में बताया है.

इसमें बताया गया हैं कि खोंयछा में तीन चीजें ली जा रही हैं. पहला एक कपड़ा जो बिहार में बिहार में अद्यौगिक क्रांति को दर्शाता है, दूसरी चीज है एक मुट्ठी चावल जो बिहार में ​कृषि क्रांति के उद्देश्य से लिया जा रहा है और तीसरी चीज है एक रुपये का सिक्का जो बिहार में इकोनॉमी बूस्ट को दिखाता है. यह वो चीजें हैं जो पीपीसी की लेस्ट ओपेन बिहार मुहिम के मुख्य उद्देश्य हैं.

इस अभियान को लेकर पुष्पम ने बताते हुए अपने फेसबुक पर लिखा था — “बिहार का खोंयछा” अभियान की शुरुआत हो चुकी है. हर ज़िले, हर ब्लॉक, हर पंचायत, हर गाँव-शहर प्लुरल्स के कार्यकर्ता हर जाति-धर्म वाले परिवार और टोले-मुहल्ले के घर-घर जा रहे और एक कपड़े के टुकड़े में एक मुट्ठी चावल और एक सिक्के का बिहार का खोंयछा प्राप्त कर रहे ताकि बिहार के भविष्य के लिए यह खोंयछा कृषि क्रांति (चावल), औद्योगिक क्रांति (कपड़ा) और करोड़ों रोज़गार (सिक्का) को जन्म दे सके। कुल 108 लाख खोंयछा मुझे लाकर दें ताकि बिहार का क़र्ज़ मेरे रोम-रोम में बस जाए और मैं उसकी लाज और उसका सम्मान नए बिहार में रख सकूँ, आप सभी को दुनियाँ में श्रेष्ठ बना कर, खुश देखकर, आपका आशीर्वाद पाकर। #ChooseProgress #बिहारकाखोंयछा

RELATED ARTICLES

बिहार में आइसोलेशन सेंटर दोबारा शुरू, होली पर दूसरे राज्‍यों से आनेवाले को रखा जाएगा

Desk: राजधानी में होली पर कोरोना से ज्यादा प्रभावित राज्यों से आने वालों की जांच के साथ उन्हें आइसोलेशन सेंटर में रखने...

बिहार पंचायत चुनाव में वोटिंग के लिए ये दस्तावेज रखें, आयोग ने जारी की 16 दस्तावेजों की लिस्ट

Desk: बिहार में पंचायत चुनाव के वोटरों के लिए राज्य निर्वाचन आयोग ने उन 16 दस्तावेजों की लिस्ट जारी कर दी है...

राज्यसभा की सीट को लेकर सियासत, चिराग बोले- मेरी मां राजनीति में नहीं आना चाहती

लाइव बिहार: लोजपा संस्थापक और पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के निधन के बाद राज्यसभा की एक सीट खाली हो गई है....

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

सक्षमता परीक्षा देकर बाहर निकले शिक्षक, बोले-सवाल बहुत मुश्किल था, एग्जाम से पहले जूता-मोजा निकलवाया गया

पटनाः बिहार बोर्ड की तरफ से ली जा रही सक्षमता परीक्षा की शुरुआत हो गई है। पहले दिन शिक्षकों ने परीक्षा के...

जीतनराम मांझी ने RJD नेता तेजस्वी यादव पर जमकर बरसे, बोले-नौकरी और रोजगार सिर्फ CM नीतीश ने दिया

पटना डेस्कः बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और हम पार्टी के संरक्षक जीतनराम मांझी ने राजद नेता तेतस्वी यादव के जन विश्वास यात्रा...

कैमूर हादसे पर CM नीतीश ने जताया दुःख, सभी लोगों की हो गई शिनाख्त, परिवार में मातम का माहौल

पटना डेस्कः बिहार के कैमूर जिला में एक बड़ी घटना घटी है, जिसमें 9 लोगों की दर्दनाक मौत हो गई है। दरअसल...

देश देखेगा गोवा पर्यटन संग आध्यात्मिक राष्ट्रवाद से विकास की राह पर आगे बढ़ेगा, सन-सैंड-सी’ संग जुड़ा गोवा

गोवा अपनी छवि का विस्तार करने का संकल्प ले चुका है।  उसकी चाहत है कि उसे उसके समुद्री तटों, गिरिजाघरों के अलावा भी...

Recent Comments