Home अभी-अभी लोकतांत्रिक तरीके से चुने गए 'जन सुराज' अभियान समिति, जीरादेई के पदाधिकारी,...

लोकतांत्रिक तरीके से चुने गए ‘जन सुराज’ अभियान समिति, जीरादेई के पदाधिकारी, राजेश्वर बने अध्यक्ष और कृष्णा कुमार महासचिव

सीवान। जीरादेई स्थित राजेन्द्र उद्यान के परिसर में जन सुराज अभियान समिति, जीरादेई प्रखंड के पदाधिकारियों का निर्वाचन लोकतांत्रिक तरीके से शनिवार 27 अगस्त 2022 को किया गया। इस अवसर पर सर्वप्रथम सर्वधर्म प्रार्थना की गई। इसके बाद पदाधिकारियों के चयन की प्रक्रिया लोकतांत्रिक तरीके से शुरू हुई। प्रत्येक पदाधिकारी का चयन सर्वसम्मति से किया गया। सभी निर्वाचित पदाधिकारियों ने देशरत्न डॉ राजेन्द्र प्रसाद के आदमकद प्रतिमा के समक्ष जन सुराज अभियान को जन जन तक पहुचाने का संकल्प लिया। सदस्यों ने जनसुराज अभियान की शुरुआत करने वाले प्रशांत किशोर के सही लोग, सही सोच और सामूहिक प्रयास की अवधारणा के प्रति पूर्ण समर्थन व्यक्त किया।इसके बाद गांधी जी के प्रिय भजन रघुपति राघव राजा राम…ईश्वर अल्लाह तेरे नाम….का श्रवण हुआ। इसके बाद राष्ट्रगान के गायन के साथ चयन प्रक्रिया की समाप्ति की घोषणा की गई ।

जनसुराज अभियान समिति, जीरादेई के नवनिर्वाचित कुछ पदाधिकारियों के नाम इस प्रकार हैं

अध्यक्ष- राजेश्वर सिंह

उपाध्यक्ष- नरोत्तम मिश्र, नुरुल होदा, डॉ० जमील, प्रशांत कुमार, गणेशदत्त पाठक, लालती देवी (सरपंच जीरादेई)

महासचिव – कृष्ण कुमार सिंह,

कोषाध्यक्ष – रामेश्वर सिंह,

बौद्धिक प्रमुख – ललितेश्वर कुमार,

जन सुराज महिला अध्यक्ष – नीतू श्रीवास्तव

यूथ विंग प्रमुख – हरिकांत सिंह

इसके अलावा 33 अन्य निर्वाचित सदस्यों को भी जन सुराज अभियान समिति, जीरादेई में अलग-अलग महत्वपूर्ण जिम्मेदारियां सौंपी गई।

RELATED ARTICLES

इमरान पर हमला,पाक अराजकता की तरफ

आर.के. सिन्हा इमरान खान पर जानलेवा हमले के बाद पाकिस्तान  में अराजकता और अव्यवस्था के और व्यापक स्तर पर...

जेजे ईरानी में दिखाई देता था जेआरडी टाटा का अक्स

आर.के. सिन्हा जेजे ईरानी एक अरसा पहले टाटा स्टील के मैनेजिंग डायरेक्टर पद से मुक्त होने के बाद खबरों...

क्यों खास है कैथोलिक-प्रोटेस्टेंट चर्च का करीब आना

आर.के. सिन्हा उत्तर भारत के ईसाई समाज के लिए पिछली 2 नवंबर की तारीख विशेष...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

जाकिर नाईक के बहाने कतर के इस्लामी इरादे को समझिए

आर.के. सिन्हा जाकिर नाईक जैसे घनघोर कट्टरवादी कठमुल्ले को विशेष अतिथि के रूप में फीफा वर्ल्ड कप 2022 में...

आपसी कलह-क्लेश हल कर आगे क्यों नहीं बढ़ते सभी राज्य

आर.के.सिन्हा देश के विभिन्न राज्य आपस में दुश्मनों की तरह से लड़े और अदावत रखें, यह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण...

पिछले 32 वर्षों से सिक्योरिटी प्रशिक्षण के लिए प्रतिबद्ध संस्था है आईआईएसएसएम IISSM

नई दिल्ली, 18 नवंबर। इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ सिक्योरिटी एंड सेफ्टी मैनेजमेंट (आईआईएसएसएम) के दो दिवसीय 32वां अन्तरराष्ट्रीय कॉन्क्लेव की शुरुआत आज दिल्ली...

Recent Comments