Home राज्य जानें जितिया व्रत का महत्व और कई जरूरी बातें

जानें जितिया व्रत का महत्व और कई जरूरी बातें

डॉ इंद्र बली मिश्रा

काशी हिंदू विश्वविद्यालय

हिंदू धर्म में कई व्रत-त्योहार मनाए जाते हैं। जिनमें से एक जिउतिया व्रत भी है। इस व्रत को जीवित्पुत्रिका और जितिया व्रत भी कहा जाता है। यह व्रत प्रत्येक वर्ष आश्विन मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को मनाया जाता है। इसे जितिया व्रत भी कहा जाता है। इस व्रत को माताएं संतान प्राप्ति और उनकी लंबी आयु की कामना के लिए रखती हैं। इसे सभी व्रतों में कठिन माना जाता है। माताएं अपने संतान की खुशहाली के लिए जितिया व्रत निराहार और निर्जला रखती हैं। इस साल यह पर्व 28 सितंबर से शुरू होकर 30 सितंबर तक चलेगा।

नहाए खाए के साथ शुरू होगा व्रत

जीवित्पुत्रिका व्रत 28 सितंबर को नहाए खाए के साथ शुरू होगा। 29 सितंबर को पूरे दिन निर्जला व्रत रखा जाएगा। 30 सितंबर को व्रत का पारण किया जाएगा।

जीवित्पुत्रिका व्रत का महत्व

जीवित्पुत्रिका व्रत संतान प्राप्ति और उसकी लंबी आयु की कामना के साथ किया जाता है। धार्मिक मान्यता के अनुसार, इस व्रत को करने से संतान के सभी कष्ट दूर होते हैं। पौराणिक कथाओं के अनुसार, महाभारत काल में भगवान श्रीकृष्ण ने अपने पुण्य को अर्जित करके उत्तरा के गर्भ में पल रहे शिशु को जीवनदान दिया था, इसलिए यह व्रत संतान की रक्षा की कामना के लिए किया जाता है

RELATED ARTICLES

आचार्य श्रीरंजन सूरिदेव जी की 95वीं जयंती समारोह का आयोजन, पत्रकार प्रवीण बागी समेत 9 पत्रकार और साहित्यकार सम्मानित

आचार्य श्रीरंजन जैसे साहित्य मनीषियों ने सदैव अपने लेखन और कर्म से साहित्य और साहित्यकारों को नवीन मार्ग का निर्देश किया है।"...

पटना जिला क्रिकेट संघ के चुनाव, स्क्रूटनी के बाद केवल पांच कैंडिडेट शेष, 31 अक्टूबर को जीत की घोषणा

लंबे वक्त के बाद पटना जिला क्रिकेट संघ के चुनाव की घोषणा हुई। विशेष आम सभा में चुनाव कराने के लिए...

कायस्थ मतदाता एकजुट होकर NDA प्रत्याशियों को भारी बहुमत से विजयी बनाये – आरके सिन्हा

 बिहार में दो सीटों पर 30 अक्टूबर को उपचुनाव होने हैं। कुशेश्वरस्थान और तारापुर में होने वाले उपचुनाव को लेकर एनडीए के...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

कायस्थों का बड़ा जमावड़ा, उत्थान से जुड़े अहम कदम उठाने पर मंथन

कायस्थों को सामाजिक और राजनैतिक भागीदारी के साथ ही आर्थिक आरक्षण दिलाना हमारा लक्ष्य है। इसे हासिल करने के लिए तमाम कायस्थ...

समाजसेवी अलका यादव का जन्मदिन कल, बधाई देने वालों का लगा तांता

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के साले और पूर्व सांसद सुभाष प्रसाद यादव की बेटी अलका यादव का जन्मदिन है. अलका यादव...

राजेन्द्र प्रसाद की 137वीं जयंती बनाएगा कायस्थ, 3 दिसंबर को गोमती नदी के तट पर इकट्ठा होंगे लोग

लखनऊ : संविधान सभा के पहले राष्ट्रपति, भारत रत्न एवं देश रत्न डॉक्टर राजेन्द्र प्रसाद की 137 वीं जयंती 3 दिसम्बर को...

ऋतुराज सिन्हा का पटना में कायस्थ समाज करेगा नागरिक अभिनन्दन

युवा सम्राट चित्रांश ऋतुराज सिन्हा को भाजपा केंद्रीय नेतृत्व ने संगठन में उन्हें राष्ट्रीय मंत्री के महत्वपूर्ण पद पर मनोनीत कर चित्रांशों...

Recent Comments