Home राजनीति CM नीतीश से जीतन राम मांझी की बड़ी मांग- निजी क्षेत्र की...

CM नीतीश से जीतन राम मांझी की बड़ी मांग- निजी क्षेत्र की नौकरियों में भी दें आरक्षण

Desk: पूर्व मुख्यमंत्री और हिंदुस्तानी अवामी मोर्चा (HAM) के अध्‍यक्ष जीतन राम मांझी (Jitan Ram Manjhi) ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) से आग्रह किया है कि वे राज्य के निजी क्षेत्र की नौकरयों में आरक्षण (Reservation in Private Sector Jobs) को लागू करें, क्योंकि सरकारी नौकरियां कम हो रही हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री से आग्रह किया कि वे उनके (जीतनराम मांझी) मुख्यमंत्रित्व काल में लिए गए कल्याणकारी निर्णयों को लागू करें। मांझी बुधवार को विधानसभा (Bihar Assembly) में विनियोग विधेयक 2 पर जारी बहस में हिस्सा ले रहे थे।

सरकारी ठेकों में भी मांगा आरक्षण

जीतन राम मांझी ने कहा कि अनुसूचित जाति एवं जनजाति को आवास के लिए 10 डिसमिल और खेती के लिए एक एकड़ जमीन सरकार खरीद कर दे। भूदान और सीलिंग की जो जमीन इन वर्गों को दी गई हैं, उनके 80 फीसद हिस्से पर उनका कब्जा नहीं है। अनुसूचित जाति व जनजाति, अत्यंत पिछड़ा वर्ग और महिलाओं को पांच करोड़ रुपये रुपये तक के सरकारी ठेके में आरक्षण देने की मांग भी उन्होंने की। मांझी ने कहा कि अपने मुख्यमंत्रित्व काल में उन्होंने 75 लाख तक के ठेके में इन वर्गों को आरक्षण दिया था। इसका लाभ मिला। ठेके से इन वर्गों के बीच रोजगार का सृजन होगा।

‘भ्रष्टाचार व अपराध का बोलबाला’

विधानसभा में विपक्ष के मुख्य सचेतक ललित कुमार यादव ने कहा कि सुशासन में भ्रष्टाचार और अपराध का बोलबाला है। राज्य में 64 बड़े घोटाले हुए। किसी पर कार्रवाई नहीं हुई। अपराधियों और भ्रष्टाचारियों को सत्ता का संरक्षण मिला हुआ है। उन्होंने कहा कि जनता दल यूनाइटेड (JDU) के कार्यालय को फाइव स्टार की तरह बनाया गया है। जबकि भारतीय जनता पार्टी (BJP) और राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) के कार्यालय जेडीयू की तुलना में काफी छोटे हैं। विधानसभा में सदस्य संख्या के लिहाज से जेडीयू तीसरे नम्बर की पार्टी है। ललित यादव ने कहा कि समय पर केस डायरी नहीं जाने के चलते अपराधियों को जमानत मिल जाती है। यह साजिश के तहत हो रहा है।

‘स्विट्जरलैंड के मुकाबले की पटना की सड़कें’

कांग्रेस के अजित शर्मा ने कहा कि बजट का धन वित्तीय नियमों के तहत खर्च किया जाना चाहिए। बीजेपी के विनोद नारायण झा ने कहा कि एनडीए की राज्य सरकार सिर्फ विकास के लिए काम करती है। पिछले 15 वर्षों में राज्य में विकास के अंतरराष्ट्रीय स्तर के कई काम हुए। राजधानी पटना की सड़कें स्विट्जरलैंड के मुकाबले की बन गई हैं। भाकपा माले के अमरजीत कुशवाहा ने डुमरांव में उस्ताद विस्मिल्लाह खान के नाम पर विश्वविद्यालय स्थापित करने की मांग की। एआइएमआइएम के अख्तरुल इमाम ने कहा कि राज्य सरकार सीमांचल के विकास के लिए विशेष प्रयास करे। सत्येंद्र यादव, मिश्रीलाल यादव, राजेश कुमार, ललित नारायण मंडल एवं जनक सिंह सहित कई विधायकों ने भी बहस में हिस्सा लिया।

RELATED ARTICLES

JDU के पूर्व अध्यक्ष शरद यादव के खिलाफ जारी हुआ गैर जमानती वारंट, जानें मामला

Desk: जदयू के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद यादव के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया गया है। गुरुवार को कोर्ट में उपस्थित...

राज्‍यपाल कोटे से चयनित सदस्‍य आज शाम पांच बजे राजभवन में लेंगे शपथ

इस वक्त एक ताजा खबर सामने आ रही है. बिहार विधान परिषद में शाम साढ़े 5 बजे शपथ ग्रहण का कार्यक्रम रखा...

तेजस्वी ने अपने विधायकों के साथ किया राजभवन मार्च, मंत्री राम सूरत को हटाने की मांग

Desk: मंत्री रामसूरत राय के मसले पर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने बिहार विधानसभा से राजभवन के लिए मार्च से शुरू कर...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

वेब जर्नलिस्ट एसोसिएशन ऑफ इंडिया की कार्यशाला सम्पन्न, वेब पत्रकारों की समस्या के समाधान के लिए सरकार बुलाएगी बैठक

वेब पत्रकारिता की महत्ता को नकारा नहीं जा सकता है. वेब पत्रकारिता ने समाज में सूचना क्रांति लाई है. यदि वेब पत्रकारिता...

शुक्रवार को विधान परिषद उप-भवन सभागार में ‘वेब जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया’ का सेमिनार, डिजिटल मीडिया पर होगी चर्चा

'वेब जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया' की पटना इकाई ने 29 जुलाई को एक सेमिनार -सह- कार्यशाला का आयोजन किया है. आपको बता...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पूर्व सांसद आर के सिन्हा ने की मुलाक़ात, कई विषयों पर हुई बातचीत

भाजपा के पूर्व सांसद आर के सिन्हा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उनके संसदीय कार्यालय में मुलाक़ात की। लगभग बीस मिनट तक...

ऐतिहासिक होगी प्रशांत किशोर की पदयात्रा, बिहार के किसी नेता ने नहीं की है अब तक इतनी लंबी पैदल यात्रा

प्रशांत किशोर इन दिनों बिहार में 'जन सुराज' अभियान के तहत जनता के बीच जा रहे हैं। प्रशांत किशोर बताते हैं कि...

Recent Comments