Home Bihar Election सहरसा: 7 नवम्बर को होने वाले मतदान के लिए हुए नामांकन में...

सहरसा: 7 नवम्बर को होने वाले मतदान के लिए हुए नामांकन में नाम वापस के बाद कूल 67 उम्मीदवार बचे मैदान में

- Advertisement -
block id 8409 site livebihar.com - mob 300x600px_B

बिहार विधानसभा चुनाव2020 के तहत सहरसा जिले में सात नवम्बर को होने वाले मतदान के लिए नामांकन प्रक्रिया के बाद नाम वापसी की प्रक्रिया शुरू हुई ।नाम वापसी के बाद चारो विधानसभा में कुल 67 प्रत्याशी बचे है।

समाहरणालय सभा कक्ष में आयोजित प्रेसवार्ता में जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह जिला पदाधिकारी कौशल कुमार ने प्रेस को संबोधित करते हुए बताया की जिले में तीसरे चरण के तहत सात नवम्बर को होने वाले मतदान के लिए नामाकंन प्रक्रिया समाप्त होने के बाद नाम वापसी के क्रम में 75सहरसा विधानसभा क्षेत्र से जहां एक उम्मीदवार ने अपना नाम वापस लिया वहीं 77महिषी विधानसभा क्षेत्र से 5 नामांकन रद्द हुआ एवं 3 उम्मीदवारों ने अपना नाम वापस लिया।अब सहरसा से 14,महिषी से 15,सोनबरसा से16 एवं सिमरीबख्तियारपुर विधानसभा क्षेत्र से22 उम्मीदवार मैदान में बचे हैं।चुनाव की सारी तैयारियां भी पूरी कर ली गई है कड़ी सुरक्षा के बीच भय मुक्त,स्वतंत्र,पारदर्शी तथा निष्पक्ष चुनाव सम्पन्न कराने के लिए प्रतिबद्ध है।इस दौरान कोई भी असामजिकतत्व शांतिपूर्ण मतदान कराने में बाधा बनेगा उससे हर स्तर से निपटने के लिए जिला प्रशासन तैयार है।

वहीं सिमरी बख्तियारपुर विधानसभा और महिषी विधानसभा क्षेत्र में मतदान के लिए सुबह सात बजे से लेकर शाम चार बजे तक समय निर्धारित की गई है वहीं सोनबरसा और सहरसा विधानसभा क्षेत्र में मतदान के लिए सुबह सात बजे से लेकर शाम छह बजे तक मतदान का समय निर्धारित किया गया है। चारों विधानसभा क्षेत्र में कुल 1865 मतदान केंद्र बनाया गया है जिसमें 1304 मूल मतदान केंद्र है और 561 सहायक मतदान केंद्र बनाया गया है।वहीं जिले भर से 13लाख 13हजार 777 मतदाता मतदान प्रक्रिया में भाग लेंगे।जिसमें महिला मतदाता की संख्या 6लाख 33हजार 903है।वहीं पुरुष मतदाता की संख्या 6लाख 79हजार 856है।वहीं शांतिपूर्ण मतदान कराने को लेकर जिले में सुरक्षा का व्यापक इंतेजाम किए गए हैं

सुरक्षा के मद्देनजर नजर एसपी राकेश कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि सहरसा जिले में कुल चार जगहों पर सीमावर्ती क्षेत्र है जिले के चारों सीमावर्ती क्षेत्रों में 21 चेकपोस्ट बनाया गया है सभी चेक पोस्ट पर फ्लाइंग स्कॉट और एसएसटी के 12-12 लोगों की टीमें तैयार किया गया है जिसे विशेष सुरक्षा के दृष्टिकोण से लगाया है सभी काम कर रही है।अब तक कूल39 अवैध हथियार,120गोली,1मिनी गन फैक्ट्री के अलावे 15155 लोगों पर 107 की कार्रवाई की गयी हैं जबकि चेकिंग पॉइंट से 70लाख83हजार220रुपैये किये बरामद एवं वाहन चेकिंग के दौरान 6लाख 58 हजार रुपैये वसूले गये। मतदान के दिन कोशी दियारा क्षेत्रों में विशेष रूप से घोड़ सवार दस्ता को तैनात किया जाएगा और River पेट्रोलिंग करवाया जाएगा साथ ही घुड़सवार दस्ता द्वारा भी दियारा क्षेत्र में निगरानी रखी जायेगी ताकि शांतिपूर्ण तरीके मतदान सम्पन्न कराया जा सके।

RELATED ARTICLES

बिहार में आइसोलेशन सेंटर दोबारा शुरू, होली पर दूसरे राज्‍यों से आनेवाले को रखा जाएगा

Desk: राजधानी में होली पर कोरोना से ज्यादा प्रभावित राज्यों से आने वालों की जांच के साथ उन्हें आइसोलेशन सेंटर में रखने...

बिहार पंचायत चुनाव में वोटिंग के लिए ये दस्तावेज रखें, आयोग ने जारी की 16 दस्तावेजों की लिस्ट

Desk: बिहार में पंचायत चुनाव के वोटरों के लिए राज्य निर्वाचन आयोग ने उन 16 दस्तावेजों की लिस्ट जारी कर दी है...

राज्यसभा की सीट को लेकर सियासत, चिराग बोले- मेरी मां राजनीति में नहीं आना चाहती

लाइव बिहार: लोजपा संस्थापक और पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के निधन के बाद राज्यसभा की एक सीट खाली हो गई है....

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

भाजपा बिहार से डर गई है, मोदी-शाह के दौरे पर बोले तेजस्वी-आने से कुछ नहीं होगा..लोकसभा में हारना तय है

पटनाः बिहार में लोकसभा चुनाव को लेकर सरगर्मियां चरम पर पहुंच गई हैं। अपनी जीत को सुनिश्चित करने के लिए पक्ष और...

सक्षमता परीक्षा पास कर चुके शिक्षकों के लिए स्कूल आवंटन शुरु, जान लीजिए क्या है प्रक्रिया ? एकदम आसान हो गया..

पटनाः सक्षमता परीक्षा उत्तीर्ण होने वाले बिहार के नियोजित शिक्षकों की तैनाती के लिए प्रक्रिया शुरू हो गई ह। शिक्षकों का पदस्थापना...

नवादा की रैली में मोदी का विपक्ष पर बड़ा हमला, बोले-मौज करने के लिए पैदा नहीं हुआ है, मेहनत करने के लिए जन्मा है

पटना डेस्कः नवादा में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विपक्ष पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने कहा...

भारत दुनिया की शीर्ष तीन सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में से एक बनने का देख रहा ख्वाब, सहकारी आंदोलन की बड़ी भूमिका 

अगर भारत दुनिया की शीर्ष तीन सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में से एक बनने की ओर तेजी से बढ़ रहा है, तो इसमें सहकारी आंदोलन...

Recent Comments