Home अभी-अभी अमित जैसा कोई नहीं, 6 विषयों में NET परीक्षा क्वालीफाई करने वाले...

अमित जैसा कोई नहीं, 6 विषयों में NET परीक्षा क्वालीफाई करने वाले देश में इकलौते छात्र

- Advertisement -
block id 8409 site livebihar.com - mob 300x600px_B

Patna: अमित कुमार निरंजन इन दिनों देश के मीडिया की सुर्खियों में क्यों छाए हैं? इस सवाल का जवाब तलाशेंगे तो जवाब मिलेगा कि अमित ने राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा (National Eligibility Test) के 6 विषयों में क्वालीफाई कर दांतों तले ऊंगली दबा लेने वाला वो कारनामा कर दिखाया है, जो देश में अब तक कोई न कर सका।

उत्तर प्रदेश में कानपुर के छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय (Chhatrapati Shahu Ji Maharaj University) के इस पूर्व छात्र ने अपनी प्रतिभा से सबको हैरत में डालते हुए अपना नाम इंडिया इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में दर्ज कराने में कामयाबी हासिल की है. इस कामयाबी पर अमित का कहना है कि किसी भी विषय की तैयारी के लिए उसे रटने की नहीं बल्कि समझने की जरूरत होती, जो मैंने धैर्यपूर्वक किया.

भारत में दो से तीन विषयों में नेट क्वालीफाई करने वाले कई छात्र आपको मिल जाएंगे, लेकिन 6 विषयों में ऐसा कमाल करने वाले अमिल देश के पहले युवा है, जिन्‍होंने वाणिज्य, अर्थशास्त्र, प्रबंधन, शिक्षा शास्त्र, राजनीति विज्ञान व समाजशास्त्र विषयों में नेट परीक्षा को क्वालीफाई किय. विश्वविद्यालय के कुलपति बुधवार को उन्हें हासिल रिकार्ड का प्रमाण पत्र सौंपा.

ऐसे बना सफलता का रास्ता
अपनी कामयाबी का राज खोलते हुए एक सवाल के जवाब में अमित ने बताया कि किसी भी विषय की तैयारी के लिए उनको रटने की जरूरत नहीं होती है, बल्कि समझने की जरूरत होती है. किसी विषय की तैयारी करते समय चीजों को लिखकर तैयार करने की आदत डालनी चाहिए. अभ्यर्थियों को हर विषय को बराबर समय देना चाहिए, कमजोर विषय पर विशेष ध्यान दें. अगर कोई विषय आपको कठिन लगता है और आप उसमें खुद को कमजोर महसूस करते हैं तो उसके सभी सूत्र, परिभाषाएं और प्रश्न धीरे-धीरे समझने का प्रयास करें. अमित 2010 में आईआईटी कानपुर में अर्थशास्त्र विषय के साथ पीएचडी के लिए चुने जा चुके हैं. वह 2013 में बैंक पीओ पद के लिए चयनित हो चुके हैं.

ऐसे पास की जा सकती है कोई भी परीक्षा

अमित ने कहा कि लोगों का धारण होती है कि मार्क्स लाना ही बच्चों का क्राइटेरिया होता है.बच्चे भी सिर्फ और सिर्फ मार्क्स के उद्देश्य से ही पढ़ते हैं. मैं इन बच्चों को संदेश देना चाहता हूं कि कोई भी सब्जेक्ट हो, जब आप उसको उसके कॉन्टेंट और समझ से पढ़ेंगे, जब आप ये समझेंगे कि उस सब्जेक्ट का अर्थ क्या है? तब आप उस सब्जेक्ट से जुड़ पाएंगे. तभी आप उस सब्जेक्ट से जुड़ जाएंगे तो कोई भी परीक्षा या एग्जाम आसानी से निकाल पाएंगे.

शिक्षा का सफरनामा
अमित ने कक्षा 1 से 12वीं तक की अपनी पढ़ाई एयरफोर्स स्कूल चकेरी से पूरी की थी. ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन पीपीएन पीजी कॉलेज कानपुर से किया. वहीं 2009 में कानपुर यूनिवर्सिटी से एमफिल में टॉप किया. साल 2010 में मेरा सिलेक्शन आईआईटी कानपुर से इकोनॉमिक्स में पीएचडी के लिए हुआ था.

RELATED ARTICLES

राष्ट्रपति के पद से हटने के बाद महामहिम द्रौपदी मुर्मू क्या करेंगी ? बिहार में आकर खुद बता दी, जानिए

पटनाः बिहार में चौथे कृषि रोड मैप 2023 की शुरुआत हो गई है। पटना के बापू सभागार में राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने...

भारतीय देशभक्त सिखों को मत जोड़ो खालिस्तानियों से, कुछ देश में जानबूझकर झूठ फैलाया जा रहा है

इधर हाल के दौर में कनाडा, ब्रिटेन, आस्ट्रेलिया वगैरह देशों में मुट्ठीभर सिरफिरे खालिस्तानियों की हरकतों को भारत के सामान्य राष्ट्र भक्त...

अस्पताल के अंदर इवनिंग OPD में नहीं मिल रहे मरीज, सुबह के शिफ्ट में 2000 तक पहुंच रहे मरीज

पटनाः बिहार के स्वास्थ्य मंत्री तेजस्वी यादव ने राज्य में बेहतर स्वास्थ्य सुविधा प्रदान करने के लिए अपनी तरफ से तो भरसक...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

सक्षमता परीक्षा देकर बाहर निकले शिक्षक, बोले-सवाल बहुत मुश्किल था, एग्जाम से पहले जूता-मोजा निकलवाया गया

पटनाः बिहार बोर्ड की तरफ से ली जा रही सक्षमता परीक्षा की शुरुआत हो गई है। पहले दिन शिक्षकों ने परीक्षा के...

जीतनराम मांझी ने RJD नेता तेजस्वी यादव पर जमकर बरसे, बोले-नौकरी और रोजगार सिर्फ CM नीतीश ने दिया

पटना डेस्कः बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और हम पार्टी के संरक्षक जीतनराम मांझी ने राजद नेता तेतस्वी यादव के जन विश्वास यात्रा...

कैमूर हादसे पर CM नीतीश ने जताया दुःख, सभी लोगों की हो गई शिनाख्त, परिवार में मातम का माहौल

पटना डेस्कः बिहार के कैमूर जिला में एक बड़ी घटना घटी है, जिसमें 9 लोगों की दर्दनाक मौत हो गई है। दरअसल...

देश देखेगा गोवा पर्यटन संग आध्यात्मिक राष्ट्रवाद से विकास की राह पर आगे बढ़ेगा, सन-सैंड-सी’ संग जुड़ा गोवा

गोवा अपनी छवि का विस्तार करने का संकल्प ले चुका है।  उसकी चाहत है कि उसे उसके समुद्री तटों, गिरिजाघरों के अलावा भी...

Recent Comments