Home राज्य रेलवे ने चलाई कई स्पेशल ट्रेनें, होली में लाखों यात्रियों का घर...

रेलवे ने चलाई कई स्पेशल ट्रेनें, होली में लाखों यात्रियों का घर जाना हुआ आसान

- Advertisement -
block id 8409 site livebihar.com - mob 300x600px_B

Desk: होली में ट्रेनों में टिकट नही मिलने से परेशान होने की जरुरत नहीं है। रेलवे उत्तर प्रदेश और बिहार समेत देश के कई शहरों के लोगों के लिए होली स्पेशल ट्रेन चलाने की घोषणा की है। अब ट्रेनों में आपका टिकट कन्फर्म हो सकता है। रेलवे के इस कदम से लाखों यात्रियों को राहत मिलेगी, जो त्यौहार पर घर जाने की इच्छा रखते हैं। ये ट्रेनें कई रेलवे स्टेशनों पर रुकते हुए भी जाएंगी।

दरअसल, होली की वजह से ट्रेनों में भीड़ बढ़ रही है। पूर्व दिशा की ओर जाने वाली लगभग सभी ट्रेनों में लंबी प्रतीक्षा सूची है। कई ट्रेनों में नो रूम (टिकट बुकिंग बंद होना) दिखा रहा है। इस स्थिति में घर जाने वालों की परेशानी बढ़ गई है। यात्रियों की परेशानी दूर करने के लिए रेलवे ने होली विशेष ट्रेन चलाने की घोषणा की है। इससे दूसरी ट्रेनों में कंफर्म टिकट हासिल करने से वंचित रह गए यात्रियों को राहत मिलेगी।

दिल्ली से पटना, भागलपुर, गया, रांची सहित बिहार के अन्य शहरों में जाने के लिए यात्रियों को होली तक कंर्फम टिकट नहीं मिल रहा है। इसी तरह की परेशानी माता वैष्णो देवी जाने वाली यात्रियों को हो रही है।

जरूरत के अनुसार और भी ट्रेनें चलाई जाएंगी

दरअसल, कोरोना संक्रमण की वजह से अभी कम संख्या में ट्रेनें चल रही हैं और उनमें भी सफर करने के लिए कंफर्म टिकट जरूरी है। जनरल कोच के लिए भी यात्रियों को पहले टिकट बुक कराना पड़ता है। अधिकारियों का कहना है कि अलग-अलग रूट पर यात्रियों को भीड़ को देखते हुए विशेष ट्रेनें चलाई जा रही हैं। जरूरत के अनुसार और भी ट्रेनें चलाई जाएंगी।

दिल्ली पुलिस से बातचीत में दुल्हन के मुंह से निकल गई सच्चाई, अब 3 साल तक नहीं हो सकती शादी

उत्तर रेलवे ने 18 होली विशेष ट्रेनें चलाने की घोषणा की है। इन ट्रेनों में दिल्ली से चलने वाली ट्रेनें भी शामिल हैं। बिहार व उत्तर प्रदेश के साथ ही महाराष्ट्र व दक्षिण भारत के लिए भी विशेष ट्रेनें चलेंगी। इन विशेष ट्रेनों के चलने से देश के कई शहरों के यात्रियों को राहत मिलेगी। जिनको टिकट नही मिल रहा है ऐसे लोगों के लिए यह राहत देने वाली खबर है।

दिल्ली से चलने वाली होली विशेष ट्रेनें

आनंद विहार टर्मिनल-वाराणसी, आनंद विहार टर्मिनल-जोगबनी, नई दिल्ली-बरौनी, आनंद विहार टर्मिनल-पटना, आनंद विहार टर्मिनल-गया, आनंद विहार टर्मिनल- कामख्या, आनंद विहार टर्मिनल-लखनऊ एसी सुपर फास्ट, हजरत निजामुद्दीन-लखनऊ एसी सुपर फास्ट, नई दिल्ली-श्री माता वैष्णो देवी कटड़ा, श्री माता वैष्णो देवी कटड़ा-वाराणसी, हजरत निजामु्द्दीन-तिरुवनंतपुरम, हजरत निजामुद्दीन-नांदेड़ एक्सप्रेस।

RELATED ARTICLES

राजस्थान की कलात्मक विरासत को सहेजती महिलाएं

शेफाली मार्टिन्स जयपुर, राजस्थानराजस्थान के विभिन्न हस्तशिल्प कलाओं में लाख की चूड़ियां अन्य आभूषणों से बहुत पहले से मौजूद थी. वैदिक युग...

इंग्लैंड में रहकर भी नहीं भूले सभ्यता, विश्व के नामचीन बिजनेस स्कूल से की मास्टर्स की पढ़ाई

वेदांत वर्मा उर्फ़ यश वर्मा इंग्लैंड के तीसरे स्थान और विश्व के नामचीन बिजनेस स्कूल में मास्टर्स की पढ़ाई स्कॉलरशिप पर पूरी...

दर्जन भर युगल जोड़ियों के विवाहोत्सव के साथ संपन्न हुआ अखंड सह नौ कुण्डीय गायत्री महायज्ञ

हिलसा अनुमंडल स्थित राधाकृष्ण मंदिर वृंदावन चौक पर पिछले 24 मई से प्रारंभ हुए अखंड सह नौ कुण्डीय गायत्री महायज्ञ का शनिवार...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

रेल बजट- सफर सुहावना करने का वादा

आर.के. सिन्हा केन्द्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा 45 लाख करोड़ का 2023-24 का बजट तो यही संकेत दे...

दो वर्षों में भारत ने विकसित किए चार स्वदेशी कोविड-19 टीके

नई दिल्ली, 31 जनवरी (इंडिया साइंस वायर): भारत के वैज्ञानिकों को दो वर्षों के कालखंड में कोविड-19 के चार स्वदेशी टीके विकसित...

देसी नस्ल की गायों के ड्राफ्ट जीनोम का खुलासा

नई दिल्ली, 30 जनवरी (इंडिया साइंस वायर): इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस एजुकेशन एंड रिसर्च (आईआईएसईआर), भोपाल के शोधकर्ताओं ने भारतीय गाय की...

बदहाली का जीवन जीने को विवश है गाड़िया लोहार समुदाय

देवेन्द्रराज सुथार जालोर, राजस्थान 'न हो कमीज़ तो पांव से पेट ढक लेंगे, ये लोग कितने मुनासिब हैं...

Recent Comments